Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

तो क्या हुआ , जो एक ट्रेन निकल गयी तुम्हारी, जिंदगी के ट्रैक मे अगली ट्रेन भी आएगी। - karthik

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Jun 1 19:28:01 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    387415 news entries  next>>
जबलपुर. वेस्ट सेंट्रल रेलवे (डबलूसीआर) ने पिछले एक माह (मई माह) में अपने क्षेत्र से गुजरने वाली 1660 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में यात्रा कर रहे प्रवासी मजदूरों की सेवा-सुश्रुषा में कोई कमी नहीं रखी. यह इसी बात से समझी जा सकती है कि पमरे ने इन 1660 श्रमिक ट्रेनों में 25 लाख से अधिक भोजन, नाश्ता व पानी की बोतलों का वितरण किया.
कोविड-19 कोरोना वायरस के प्रसार को खत्म करने हेतु जारी लॉकडाउन की अवधि में प्रवासी श्रमिकों, तीर्थ यात्रियों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य व्यक्तियों को उनके गृह नगर भेजने हेतु गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार रेलवे श्रमिक स्पेशल गाडिय़ाँ चला रहा है, जिनमें से उत्तर प्रदश, बिहार, झारखंड की ओर जाने वाली बड़ी संख्या में श्रमिक स्पेशल गाडिय़ां
...
more...
पश्चिम मध्य रेल के तीनों मंडलों जबलपुर मण्डल, भोपाल मण्डल एवं कोटा मण्डल से प्रतिदिन होकर गुजर रही हैं.
पमरे के जीएम के निर्देशन में बना रिकार्ड
मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी पमरे श्रीमती प्रियंका दीक्षित ने बताया कि महाप्रबंधक, पश्चिम मध्य रेल शैलेंद्र कुमार सिंह के कुशल निर्देशन एवं मण्डल रेल प्रबंधकों के नेतृत्व में मानक प्रोटोकाल के अनुसार वाणिज्य अधिकारियों व पर्यवेक्षक कर्मचारियों, रेलवे सुरक्षा बल एवं पमरे भारत स्काउट एंड गाइड द्वारा तीनों मण्डलों के विभिन्न स्टशनों पर श्रमिक स्पेशल गाडिय़ों में समयानुसार नास्ता, लंच एवं डिनर भोजन और पानी के बॉटल आईआरसीटीसी के समन्वय से उपलब्ध कराए जा रहे हैं. जिसके अंतर्गत भोजन में यात्रियों को पूरी, भाजी, रोटी, पुलाव, वेज बिरयानी, अचार, सलाद, खिचड़ी और नास्ते में ब्रेड, केला,चिप्स, नमकीन, बिस्किट हलवा, पोहा उपलब्धता के अनुसार दिए जा रहे हैं. खाने में हाइजीन का विशेष ध्यान रखा जा रहा है, जिससे यात्रियों को स्वच्छ व साफ खाना मिल सके. यात्रियों की खाने की अपूर्ति करते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है.
1 से 31 मई तक तीनों मंडलों सेें इतनी ट्रेनें गुजरीं
सीपीआरओ श्रीमती दीक्षित ने बताया कि इसी सेवा के तहत 01 मई 2020 से 31 मई 2020 तक पश्चिम मध्य रेलवे से होकर गुजरने वाली श्रमिक स्पेशल गाडिय़ों में यात्रा करने वाले प्रवासी भाई, बहनों एवं उनके बच्चों को मण्डलों के रेल कर्मी कोरोना योद्धाओं ने आईआरसीटीसी के समन्वय से भोपाल मण्डल पर 917 श्रमिक गाडिय़ों में कुल 13 लाख 37,800 फुड पैकेट (नाश्ता, लंच, डिनर) और पानी की बॉटल, जबलपुर मण्डल पर 630 श्रमिक गाडिय़ों में 9 लाख 84,622 फुड पैकेट (नाश्ता, लंच, डिनर) और पानी की बॉटल एवं कोटा मण्डल पर 113 श्रमिक गाडिय़ों में 1 लाख 78,708 फुड पैकेट (नाश्ता, लंच, डिनर) और पानी की बॉटल, ससम्मान उपलब्ध कराई गई हैं. इस प्रकार पमरे द्वारा कुल 1660 श्रमिक गाडिय़ों में 25,01,130 फुड पैकेट एवं पानी की बॉटल उपलब्ध कराकर एक रिकॉर्ड कायम किया गया. कोरोना योद्धाओं द्वारा सेवा का यह कार्य लगातार जारी रहेगा.
Today (16:11) Coronavirus: Indian Railways deploys COVID-19 coaches for suspected patients (www.deccanherald.com)
New Facilities/Technology
NR/Northern
0 Followers
5080 views

News Entry# 409870  Blog Entry# 4641742   
  Past Edits
Jun 01 2020 (16:11)
Station Tag: Shakur Basti/SSB added by Next train from SWR~/48335
Stations:  Shakur Basti/SSB  
Indian Railways has deployed its first COVID-19 isolation coach at Shakur Basti in New Delhi for suspected novel coronavirus patients.
A rake with 10 coaches has been deployed and it can accommodate 160 patients. The rake has nine non-AC coaches for patients while one AC coach for medical staff, said an official from Ministry of Railways.
For latest updates and live news on coronavirus, click here
On
...
more...
the request from the Delhi Government, the Railways has deployed one rake containing 10 coaches of COVID isolation coaches for treat COVID-19 patients, said the officer..
The rake was placed at coach washing area at Shakur Basti Railway Station and the Delhi Government will deploy health care staff.
The Indian Railway converted 5,231 non-AC sleeper and General coaches as COVID-19 coaches to supplement hospital isolation beds. The Railways also identified 215 major stations across the country for its deployment and asked the states to utilise it to treat mild and very mild COVID-19 patients.
Since no states have come forward to utilise it, the Railway Board has decided to convert around 3,100 coaches as normal and deploy it for Shramik Special trains as there is a huge demand for non-AC coaches. However, around 2,131 coaches will remain as isolation coaches and will be given to states as and when they demand, said an official in the railways.

Rail News
4494 views
Today (16:37)
NCR is Pride of IR^~   41076 blog posts   3160 correct pred (69% accurate)
Re# 4641742-1            Tags   Past Edits
I listen somewhere that Delhi government is already having 8000 beds in advance.
What is correct news?

3238 views
Today (17:26)
Next train from SWR~   6706 blog posts   414 correct pred (69% accurate)
Re# 4641742-2            Tags   Past Edits
May be this is movable coaches-train brought in for remote location, where hospital is bit far.

1950 views
Today (18:09)
NCR is Pride of IR^~   41076 blog posts   3160 correct pred (69% accurate)
Re# 4641742-3            Tags   Past Edits
Area of Delhi is not so much big.

853 views
Today (19:00)
Next train from SWR~   6706 blog posts   414 correct pred (69% accurate)
Re# 4641742-4            Tags   Past Edits
Then there is some suspicious about this news, even few times previously also DH reported some news, which was not present in any other news publishers.

0 views
Today (19:27)
kedarc68   659 blog posts
Re# 4641742-5            Tags   Past Edits
Figure of 8000 has come from Mumbai. Yesterday, CM announced availability of new 8000 beds.
Today (15:55) दो महीने बाद सहरसा से खुली वैशाली एक्सप्रेस,यात्रियों के जांच के लिए किए गए पुख्ता इंतजाम। (www.allindianewsservices.com)
New/Special Trains
ECR/East Central
0 Followers
3723 views

News Entry# 409868  Blog Entry# 4641730   
  Past Edits
Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Aligarh Junction/ALJN added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Siwan Junction/SV added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Chhapra Junction/CPR added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Sonpur Junction/SEE added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Hajipur Junction/HJP added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Muzaffarpur Junction/MFP added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Samastipur Junction/SPJ added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Begusarai/BGS added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Barauni Junction/BJU added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Khagaria Junction/KGG added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Station Tag: Saharsa Junction/SHC added by Jay K~/1814049

Jun 01 2020 (15:55)
Train Tag: Vaishali Covid - 19 SF Special/02553 added by Jay K~/1814049
Posted by: Jay K~ 59 news posts
सहरसा जंक्शन से दो महीने से ज्यादा समय के बाद 1 जून को सुपरफास्ट वैशाली एक्सप्रेस सहरसा से नईदिल्ली के लिए रवाना हई। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण दो महीने तक रेल सेवा देश भर में बंद थी। 1 जून से 200 ट्रेनो का परिचालन शुरू किया गया है। सहरसा जंक्शन से वैशाली सुपरफास्ट एक्सप्रेस सुबह 6:45 बजे सहरसा जंक्शन से रवाना हुई। समस्तीपुर डीआरएम अशोक माहेश्वरी एवं सीनियर डीसीएम सरस्वतीचंद्र के निर्देश पर सहरसा डीसीआई राजेश रंजन एवं अन्य रेल अधिकारियों की देख रेख में स्टेशन पर जांच की पूरी तैयारी कर ली गयी थी। ट्रेन रवाना होने के 90 मिनट पहले यात्री स्टेशन परिसर में आ गए थे। सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गयी। इस दौरान सोशल डिस्टनसिंग का भी खास ख्याल रखा गया। सभी यात्रियों को मास्क पहनना अनिर्वाय था।
सहरसा
...
more...
जंक्शन पर ट्रेन खुलने के पहले दिन कुली भी मुस्तैद दिखे। ट्रेन के अंदर भी टीटीआई द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग की मदद से यात्रियों की जांच की गई। बिना मास्क और कोरोना संक्रमण के मिलते जुलते लक्षण वाले यात्रियों को प्लेटफार्म प्रवेश करने पर रोक है।सहरसा में मिले 2 नए कोरोना पॉजिटिव, जिलें में एक्टिव केस की संख्या हुई 20,डोर टू डोर की जा रहीं है जांच
Today (15:23) रफ्तार पकड़ें रेलवे के ये बड़े प्रोजेक्ट तो हजारों श्रमिकों के हाथों को मिले काम, लॉकडाउन में संकट से उबरने बनेंगे संकटमोचक (www.patrika.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
4501 views

News Entry# 409866  Blog Entry# 4641716   
  Past Edits
Jun 01 2020 (15:24)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Rhythms of Rail^~/100643

Jun 01 2020 (15:24)
Station Tag: Katni Murwara/KMZ added by Rhythms of Rail^~/100643

Jun 01 2020 (15:24)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Rhythms of Rail^~/100643

Jun 01 2020 (15:24)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by Rhythms of Rail^~/100643

Jun 01 2020 (15:24)
Station Tag: Singrauli/SGRL added by Rhythms of Rail^~/100643
कटनी. कोरोना वायरस कोविड-19 महामारी के चलते लॉकडाउन से मजदूरों के भविष्य पर संकट मंडरा रहा है। सबसे ज्यादा समस्या मध्यमवर्गीय परिवार के लोग परेशान हैं। सरकारों से मिलने वाली सहायता नाकाफी है। ऐसे में जबतक मजदूरों के हाथों को काम नहीं मिलेगा और मजदूरी नहीं मिलेगी उनका भविष्य गर्त में जाता चला जाएगा। ऐसे में यदि शहर में होने वाले रेलवे के बड़े-बड़े विकास कार्य शुरू हो जाते हैं और मशीनरी के स्थान पर मजदूरों के हाथों को काम मिलता है तो स्थित काफी संवरेगी। हजारों श्रमिकों को रोजगार मिल जाएगा। बता दें कि शहर में रेलवे के 6 बड़े प्रोजेक्ट हैं, जिनपर काम होना है। प्रोजेक्ट स्वीकृत हैं। कई स्टार्ट भी हो गए हैं, लेकिन कोरोना वायरस व बजट के अभाव में ब्रेक लगा हुआ है। बीना-कटनी, कटनी-बिलासपुर थर्ड लाइन कटनी जंक्शन में यार्ड रिमॉडलिंग का कार्य बजट व लॉकडाउन के अभाव में रुका है। मुड़वारा रेलवे स्टेशन में टीसी...
more...
रेस्ट हाउस यह मुड़वारा रेलवे स्टेशन में 52 बिस्तर का बनना है। झलवारा से मझगवां फाटक तक ग्रेड सेप्रेटर लगभग 15 किलोमीटर बनना है। बीना-कटनी, कटनी-बिलासपुर थर्ड लाइन विस्तार का भी काम चल रहा है। कटनी-सिंगरौली डबल लाइन का काम भी हो रहा है। कटनी-सिंगरौली 264 किलोमीटर डबल लाइन हो रही है। इसमें अभी तक कटंगी-खुर्द सल्हना तक 16 किलोमीटर, मझौली से महदया 18 किलोमीटर ही काम हो पाया है। इसके अलावा मुड़वारा स्टेशन में बाउंड्रीवॉल, वेटिंग हॉल, रैम्प, कार्यालय, आरपीएफ चौकी, जीआरपी चौकी, प्रसाधन, मझगवां फाटक में फ्लाइओवर आदि का निर्माण शीघ्र शुरू हो तो हजारों मजदूरों को काम मिलेगा। इन निर्माण कार्यों में संकट के इस दौर में बजट रोड़ा न बने इस पर रेलवे को ध्यान देना होगा।इनका कहना हैलॉकडाउन धीरे-धीरे खुल रहा है। ट्रेनों का परिचालन शुरू हो रहा है। राज्य सरकार भी अपने रुके हुए प्रोजेक्ट शुरू कर चुकी हैं। कटनी में तीसरी लाइन, मुड़वारा स्टेशन के उपर से गुजरने वाला रेल फ्लाई ओवर, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे का टिकट निरीक्षक विश्रामालय, मुड़वारा स्टेशन का सौंदर्यीकरण, कटनी मुख्य स्टेशन का वीआइपी रोड, आदि काम शुरू हों, ताकि श्रमिक जो बेरोजगार बैठे हैं उनको काम मिल। मटेरियल सप्लाई से व्यापार चलेगा। श्रमिकों के हित को ध्यान में रखते हुए जल्द निर्माण कार्य शुरू हो हों।कमल मोहनानी, रेलवे सलाहकार समिति सदस्य।--रेलवे के कटनी में जितने भी बड़े प्रोजेक्ट हैं वह सब शुरू होने चाहिए। सरकार के नियम-निर्देशों का पालन करते हुए मशीनों का कम और श्रमिकों का अधिक उपयोग हो, ताकि संकट की इस घड़ी में मजदूरों को रोजगार मिल सके। इससे विकास कार्य में तेजी तो आएगी ही साथ में श्रमिकों की रोजी-रोटी चल सकेगी। कार्य स्थल पर सामाजिक दूरी, थर्मल स्कैनिंग, सेनेटाइज का उपयोग अवश्य हो। बजट बाधा न बने। रेलवे के बड़े-बड़े कामों में मजदूरों को लगाकर संकट से उबरा जा सकता है।हरीश बिल्लोरे, रिटायर्ड डिप्टी सीओएम प्लानिंग रेल।--इनका कहना हैस्वीकृत प्रोजेक्ट लॉकडाउन के कारण रुके हैं। जैसे-जैसे स्थिति सामान्य हो रही हैं वैसे-वैसे निर्माण कार्य शुरू करा रहे हैं। ज्यादा जरूरी कार्य हैं उनको पहले प्राथमिकता दी जाएगी। शैलेंद्र कुमार सिंह, जीएम पमरे।
Page#    387415 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy